सप्ताह में शेयर बाजार ने दर्ज की 2.75 फीसदी की तेज़ी

सेंसेक्स 260 अंक बढ़कर बंद

मुंबई : चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में आर्थिक गतिविधियों के पटरी पर लौटने के साथ ही निवेशधारणा मजबूत होने से बीते सप्ताह शेयर बाजार में करीब 2.75 फीसदी की तेजी रही।

इस दौरान अमेरिकी बांड में स्थिरता आने और कोरोना महामारी के खिलाफ विश्व के कई देशों में जारी टीकाकरण अभियानों से निवेशकों को बल मिला।
बीएसई के 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शुक्रवार को बीते सप्ताह के मुकाबले 1305 अंक यानी 2.66 फीसदी की वृद्धि के साथ 50.405.32 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 408.95 अंकों यानी 2.81 फीसद की साप्तहिक वृद्धि के साथ 14,938.10 पर बंद हुआ।

बीएसई मिडकैप सूचकांक बीते सप्ताह के मुकाबले 609.15 अंक बढ़कर 20,587.80 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 780.67 अंकों की वृद्धि के साथ 20,936.02 अंकों पर बंद हुआ। एक मार्च को जारी वाहन कंपनियों के बिक्री के पिछले वर्ष के मुकाबले बढ़े आंकड़ों से भी शेयर बाजार में तेजी देखी गई।

सोमवार को सेंसेक्स में 749.85 अंकों की बढ़त के साथ 49,849.84 पर जबकि निफ़्टी 232.40 अंकों की वृद्धि के साथ 14,761.55 पर बंद हुआ। मंगलवार को सेंसेक्स फिर 447.05 अंकों की उछाल के साथ 50 हजार को पार करता हुआ 50,296.89 अंक पर बंद हुआ और निफ़्टी इस दौरान 157.55 की उछाल के साथ 14,919.10 अंक पर पहुंच गया। बुधवार को सेंसेक्स ने 1,147.76 अंकों की लम्बी छलांग लगाते हुए 51,444.65 अंक पर और निफ़्टी 326.50 अंको की वृद्धि के साथ 15 हजार को पर करते हुए 15,245.60 अंक पर पहुंच गया।

सप्ताह के शुरू के तीन दिनों में तेजी के बाद सेंसेक्स गुरुवार को 598.57 अंक लुढ़क कर 50,846.08 पर और निफ़्टी 164.85 अंक की गिरावट के साथ 15,080.75 पर बंद हुआ। शुक्रवार को भी सेंसेक्स में गिरावट दर्ज की गई और यह 440.76 अंको की गिरावट के साथ 50,405.32 और निफ़्टी 142.65 अंक लुढ़क कर 14,938.10 पर बंद हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *