FY2022 में 15% रह सकता है नॉमिनल GDP ग्रोथ रेट

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी के कारण शेयर बाजार मार्च, 2020 में औंधे मुंह गिर गया था। लेकिन उसके बाद केंद्र सरकार और RBI द्वारा इकोनॉमी को सुधारने के लिए उठाए गए कदमों और बाद में कोरोना वैक्सीन आने का खबरों के कारण शेयर बाजार को नया जीवनदान मिला और अब यह रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया है। मार्च लो (March Low) से अब तक Sensex और Nifty में 90% की तेजी आई है। वहीं, 2020 में BSE और NSE में 15% की तेजी आई है। ब्रोकरेज फर्म यस सिक्योरिटीज (Yes Securities) का कहना है कि शेयर बाजार का बुरा दौर खत्म हो चुका है और 2021 में इसमें और तेज उछाल आएगी। यानी शेयर मार्केट का बेस्ट अभी आना बाकी है।

Yes Securities ने अपने नोट में कहा कि FY2021 में कॉर्पोरेट अर्निंग में इजाफा हुआ है। ब्रोकरेज फर्म ने उम्मीद जताई कि FY2022 में देश का नॉमिनल GDP ग्रोथ रेट 15% तक पहुंच सकता है। अगर ऐसा होता हा तो कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी। अब तक शेयर बाजार कोरोना वैक्सीन के कंधे पर बैठकर बुल (Bulls) की सवारी कर रहे थे। लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि 2021 में स्टॉक मार्केट को जो फैक्टर ड्राइव करेगा, उनमें बजट 2021 (Budget 2021) सबसे अहम है। हालांकि, शेयर मार्केट में टेक्निकल करेक्शन की गुंजाइश है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *