‘देशी ट्विटर’ Koo ने जुटाए 30 करोड़

नई दिल्ली: करीब 10 महीने पुराने माइक्रोब्लॉगिगं स्टार्टअप Koo ने 41 लाख डॉलर (29.84 करोड़ रुपये) का फंड जुटा लिया है. स्वदेशी माइक्रोब्लॉगिंग स्टार्टअप कू इस कैपिटल का इस्तेमाल अपनी क्षमता बढ़ाने के लिए करेगा. कंपनी द्वारा जारी बयान के मुताबिक वह भारतीय माहौल में सामने आने वाली चुनौतियों और अपने ऐप के प्रति जागरुकता बढ़ाने के लिए मार्केटिंग के लिए इस फंड का इस्तेमाल करेगा. कू Made in India ऐप है जो ट्विटर के विकल्प के तौर पर अपनी भाषा में लोगों को अपने विचार व्यक्त करने की आजादी देता है. कू ने 2984 करोड़ का यह फंड अर्ली स्टेड वेंचर कैपिटल फर्म 3one4 Capital के अलावा Accel Partners, Kalaari Capital, Blume Ventures और Dream Incubator जैसे निवेशकों से जुटाए हैं.

स्वदेशी ऐप कू की शुरुआत अप्रमेय राधाकृष्णा ने किया था जो कैब-हेलिंग कंपनी टैक्सीफॉरश्योर के को-फाउंडर भी हैं. राधाकृष्णा पिछले साल 2020 में आत्मनिर्भर भारत ऐप इनोवेशन चैलेज के 24 विजेताओं में से एक हैं. राधाकृष्णा ने जिस टैक्सी ऐप TaxiForSure की शुरुआत की थी, उसे उसके सबसे बड़े प्रतिद्वंद्वी ने करीब 5 साल पहले अधिग्रहित कर लिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *