Google और Jio Platforms की डील पूरी

गूगल ने रिलायंस इंडस्ट्रीज लि. की डिजिटल सब्सिडियरी जियो प्लेटफार्म्स में 7.73 फीसदी हिस्सेदारी के एवज में 33,737 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया है. यह गूगल का किसी भारतीय कंपनी में अब तक का सबसे बड़ा निवेश है. इसके साथ ही गूगल फेसबुक जैसी उन वैश्विक निवेशकों की सूची में शामिल हो गयी है, जिन्होंने जियो प्लेटफॉर्म्स में हिस्सेदारी खरीदी है. बता दें कि गूगल की पेरेंट कंपनी अल्फाबेट इंक है.

गौरतलब है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज ने केवल 11 सप्ताह में 13 वित्तीय और रणनीतिक निवेशकों को जियो प्लेटफार्म्स की कुल मिला कर 33 फीसदी हिस्सेदारी बेचकर 1.52 लाख करोड़ रुपये की पूंजी जुटायी है. इससे कंपनी मार्च 2021 के लक्ष्य से पहले ही शुद्ध रूप से कर्ज को खत्म करने में कामयाब रही.

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा, ‘‘सभी जरूरी मंजूरियों के बाद कंपनी की सब्सिडियरी जियो प्लेटफार्म्स को गूगल इंटरनेशनल एलएलसी से 33,737 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त हुई है.’’ गूगल इंटरनेशनल एलएलसी, गूगल एलएलसी की पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडियरी है. जियो प्लेटफार्म्स ने इक्विटी शेयर गूगल इंटरनेशनल एलएलसी को आवंटित कर दिए हैं. इसके बाद गूगल इंटरनेशनल एलएलसी की जियो प्लेटफार्म्स में 7.73 फीसदी हिस्सेदारी हो गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *