वित्त मंत्री ने दिया संकेत, मिल सकता है एक और प्रोत्साहन पैकेज

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा है कि सरकार ने अर्थव्यवस्था पर कोविड19 महामारी के प्रभाव और जीडीपी में संभावित गिरावट का आकलन करना शुरू कर दिया है. वित्त मंत्री ने यह बात 15वीं फाइनेंस कमीशन के चेयरमैन एनके सिंह की किताब ‘पोरट्रेट्स ऑफ पावर: हाफ ए सेंचुरी ऑफ बीइंग एट रिंगसाइड’ की लॉन्च के मौके पर कही. उन्होंने ग्रोथ को बढ़ावा देने के लिए एक अन्य प्रोत्साहन पैकेज की संभावना से भी इनकार नहीं किया.

सीतारमण ने कहा, ‘मैंने एक अन्य प्रोत्साहन पैकेज के लिए विकल्प बंद नहीं किया है. हर बार हम काफी विचार-विमर्श के बाद प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा करते हैं.’ इस सवाल पर कि वित्त मंत्रालय कब आर्थिक गिरावट के आकलन को पेश करेगा, वित्त मंत्री ने कहा कि मंत्रालय ने अक्टूबर की शुरुआत से आकलन शुरू कर दिया है और जल्द ही एक अनुमान जारी किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि हमने अभी केवल एक तरह का आकलन शुरू किया है. हम दूसरी छमाही के शुरू होने का इंतजार कर रहे थे, जो कि अब शुरू हो चुकी है. हमें ढेर सारे इनपुट मिले हैं, जो जुलाई में हमारे पास मौजूद इनपुट से काफी अलग हैं. सीतारमण ने आगे कहा कि जल्द ही हम एक बयान लेकर आएंगे. मैं इसे सार्वजनिक तौर पर जारी करूंगी या संसद में यह अलग बात है लेकिन वित्त मंत्रालय को एक आकलन करना ही होगा.

बता दें​ कि आरबीआई ने भारतीय अर्थव्यवस्था में मौजूदा वित्त वर्ष के दौरान 9.5 फीसदी की गिरावट का अनुमान जताया है, जबकि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष और वर्ल्ड बैंक ने क्रमश: 10.3 और 9.6 फीसदी की गिरावट का अनुमान दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *