दिनभर उतार चढ़ाव के बाद सेंसेक्स में 371 अंक का सुधार

मुंबई: कोरोना वायरस से जूझती अर्थव्यवस्था को सहारा देने के लिये सरकार द्वारा एक और प्रोत्साहन पैकेज दिये जाने की उम्मीद में स्थानीय शेयर बाजार में तेजी बरकार रही। बंबई शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक मंगलवार को लगातार दूसरे दिन लाभ में रहा। वित्तीय कंपनियों के शेयरों में लिवाली का जोर रहने से सेंसेक्स 371 अंक सुधर कर करीब सात सप्ताह बाद 32,000 अंक से ऊपर बंद हुआ।

कारोबार की समाप्ति पर यह 371.44 अंक यानी 1.17 प्रतिशत बढ़कर 32,114.52 अंक रहा। घट बढ के दौर में यह दिन में 32,199.91 से 31,661.34 अंक के दारे में रहा। इसी प्रकार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 98.60 अंक यानी 1.06 प्रतिशत बढ़कर 9,380.90 अंक पर बंद हुआ। यह 13 मार्च के बाद इसका सबसे ऊंचा स्तर है। सोमवार को भी बीएसई सेंसेक्स 415.86 अंक और निफ्टी में 128 अंक की बढ़त दर्ज की गई थी।

आज मंगलवार को भी इसमें बढ़त का रुख बना रहा। रिजर्व बैंक की तरफ से म्यूचुअल फंड उद्योग को 50,000 करोड़ रुपये का नकदी समर्थन दिये जाने से वित्तीय कंपनियों के शेयरों में खरीदारी का जोर रहा।

सेंसेक्स में शामिल शेयरों में 15 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज करने के साथ इंडसइंड बैंक सबसे अधिक लाभ वाला शेयर रहा। वहीं बजाज फाइनेंस, एचउीएफसी, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा और स्टेट बैंक में तेजी का रुख रहा। इसके विपरीत सन फार्मा, नेस्ले इंडिया, एनटीपीसी, एचसीएल टेक और भारतीय एयरटेल गिरावट वाले प्रमुख शेयर रहे। कारोबारियों का कहना है कि रिजर्व बैंक की तरफ से म्यूचुअल फंड उद्योग के लिये 50,000 करोड़ रुपये की नकदी सुविधा पेशकश से वित्तीय कंपनियों के शेयरों में खरीदारी का जोर रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *